कर्मचारी भविष्य निधि संगठन
श्रम और रोजगार मंत्रालय, भारत सरकार,
अहमदाबाद, गुजरात
लाभ
 
घर लाभ

कर्मचारी भविष्य निधि दावों के निपटान के लिए कर्मचारी भविष्य निधि योजना 1952 के प्रावधान 

सामग्री पढ़ने के अवलोकन करें : 
कर्मचारी भविष्य निधि योजना, '52 - पैरा 69, 70, 72 (1), 72 (2), 72 (3), 72 (3),
भविष्य निधि देय का दावा करनें के लिएं निर्धारित प्रपत्र।

 नामांकित व्यक्ति /परिवार के सदस्य/सदस्यों/कानूनी वारिस द्वारा सदस्य की मृत्यु होने पर : प्रपत्र-20 के द्वारा पैरा -69 के अंतर्गत सदस्य के दावे का निपटान – प्रपत्र -19 के द्वारा 

 

2 महीने की प्रतीक्षा अवधि के बिना तत्काल निपटान

केवल
दो महीने की प्रतीक्षा अवधि के बाद निपटान

 69(1)(ए), 55 वर्ष की उम्र हो जाने पर सेवानिवृति

69 (1) (ई) (i)- एक बंद स्थापना से अनावरित स्थापना में गैर-छँटनी कर्मचारी का स्थानांतरण

 69(1)(बी) – शारीरिक या मानसिक दुर्बलता के कारण होने वाली पूर्ण एवं स्थायी अक्षमता के कारण सेवानिवृति।

69 (1) (ई) (द्वितीय)  एक ही नियोक्ता के तहत एक आवरित स्थापना से अनावरित स्थापना में कर्मचारी का स्थानांतरण।

 69 (1) (डी) छंटनी पर सेवा की समाप्ति।

69 (2)  अन्य मामलों अर्थात , इस्तीफा, सेवा छोड़ने, आदि

69 (1) (डीडी)-  स्वैच्छ‍िक सेवानिवृत्त‍ि पर सेवा की समाप्ति

नोट: विवाह करने के उद्देश्य से सेवा त्यागने वाली महिला सदस्य के मामले में प्रतीक्षा अवधि लागू नही होगी।

 69 (1) (सी) विदेश में स्थायी रूप से बसने या विदेश में रोजगार के लिए, भारत से प्रवासन।

69 (1) (ई) (ग)  सदस्य की बर्खास्तगी और आईडी अधिनियम 1947 के अंतर्गत भुगतान किया गया छँटनी मुआवजा।

 

पैरा 70 के तहत निपटारा:  
(एक मृतक सदस्य के संचय) के माध्यम से

+ फार्म नं 20 
 70(i)- यदि नामांकन मौजूद है, तब नामांकित को भुगतान, प्रपत्र-2(आर) के अनुसार किया जाता है। (नामांकन तथा घोषणा प्रपत्र)

70 (ii) – यदि कोई नामांकन नही है तो भुगतान उसके परिवार के सभी सदस्यों को बराबर हिस्सों में किया जायेगा। (जैसा कि  कर्मचारी भविष्य निधि योजना 1952 के पैरा-2 में वर्णित है। ) इस पैरा के उद्देश्य से, सदस्य की मृत्यु के पश्चात जन्म लेने वाले जीवित बच्चें को सदस्य की मृत्यु के पूर्व जन्म लेने वाले बच्चें के रूप में माना जायेगा।

लेकिन परिवार के अन्य सदस्यों द्वारा संचय प्राप्त करने के लिए उपलब्ध होने पर निम्नलिखित किसी भी हिस्से को प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं होंगे –

व्यस्क पुत्र/पुत्रों

एक मृतक पुत्र के व्यस्क पुत्र,

ऐसी विवाहित पुत्रियाँ जिनके पति जीवित है,

एक मृत पुत्र की विवाहित पुत्रियाँ जिनके पति जीवित है,

70(iii)- ऐसे मामलों में जहाँ पैरा 70(i) तथा 70(ii) लागू नहीं होता वहाँ पैरा 70(iii)  के प्रभाव से, भुगतान ऐसे व्यक्ति को किया जायेगा, जो इसके लिए विधिक रूप से पात्र हो। यदि निधि में जमा राशि रू. 10,000 से अधिक न हो तब आयुक्त, दावाकर्ता की जाँच कर तथा उसकी दावेदारी से संतुष्ट होकर ऐसी राशि का भुगतान कर सकता है।

जबकि भुगतान एक अव्यस्क सदस्य को किया जा रहा हो। भुगतान किया जायेगा -

  1.  ऐसे अभिभावक, जिनकी नियुक्ति अभिभावक तथा प्रतिपाल्य अधिनियम 1890 के तहत की गयी। हो, (अ) के न होने पर,
  2. सदस्य द्वारा पैरा 61(4ऐ) के तहत नियुक्त अभिभावक। (अ) तथा (आ) के न होने पर,
  3.  सदस्य के प्राकृतिक अभिभावक को, (अ), (आ) तथा (इ) के न होने पर,
  4. ऐसे व्यक्ति को, जिसे कि आयुक्त द्वारा उपयुक्त व्यक्ति माना गया हो तथा राशि रू. 20,000/-से

अधिक न हो, या केन्द्रीय न्यासी बोर्ड के चेयरमेन द्वारा उपयुक्त व्यक्ति माना गया हो जबकि

राशि रू. 20,000/- से अधिक हो- पैरा -72(3)

जब भुगतान एक पागल व्यक्ति को किया जा रहा है, तब यह देय होगा :

  1. भारतीय पागलपन अधिनियम, 1912 के तहत नाबालिग की संपत्ति के लिए नियुक्त प्रबंधक, (अ) के न न होने पर,
  2. पागल व्यक्ति के प्राकृतिक अभिभावक, (अ) तथा (आ) के न होने पर,
  1. ऐसे व्यक्ति को, जिसे कि आयुक्त द्वारा उपयुक्त व्यक्ति माना गया हो तथा राशि रू. 20,000/-से

अधिक न हो, या केन्द्रीय न्यासी बोर्ड के चेयरमेन द्वारा उपयुक्त व्यक्ति माना गया हो जबकि

राशि रू. 20,000/- से अधिक हो- पैरा -72(3ए)

नोट – मनीआर्डर के द्वारा अधिकतम भुगतानयोग्य राशि रू. 2000/- होगी तथा इससे अधिक राशि का  भुगतान चेक द्वारा किया जायेगा। यदि भुगतान की गयी राशि रू. 500/- से अधिक हो, तो मनीआर्डर की कीमत का भुगतान दावाकर्ता द्वारा किया जायेगा।

पैरा 70 (ए):

यदि कोई व्यक्ति जो एक मृत सदस्य की भविष्य निधि जमा को प्राप्त करने का पात्र है, सदस्य की हत्या या इस अपराध में सहभागी पाया जाता है, तब ऐसे व्यक्ति को, उसका हिस्सा तब तक नहीं दिया जायेगा जब तक इस मामले का अंतिम निर्णय नही हो जाता। यदि ऐसा व्यक्ति बाद में ऐसे मामलें से बरी हो जाता है तब उसे उसका हिस्सा दे दिया जायेगा। यदि वह व्यक्ति अपराधी सिद्ध हो जाता है तथा अभिशस्त होता है, तब उसका हिस्सा, हिस्से को प्राप्त करने के लिए पात्र अन्य व्यक्ति/व्यक्तियों में समान रूप से बाँट दिया जायेगा।

   निकासी 
 
 

लाभ के प्रकार

पात्रता

पात्र राशि

प्रपत्र

दस्तावेजी साक्ष्य

मकान के निर्माण के लिए भूमि की खरीद

निधि की सदस्यता के 5 वर्ष पूर्ण होना चाहिए।  (सदस्य के भविष्य निधि लेखा में न्यूनतम शेष राशि रुपये 1000 /- होना चाहिए।)
* खरीद, स्वयं सदस्य अथवा जीवनसाथी के नाम से होना चाहिए।

24 महीने की मजदूरी (मूल वेतन एवं मँहगाई भत्ता) 
या 
​​ सदस्य का स्वयं का अंशदान+कंपनी के अंशदान का हिस्सा तथा उस पर देय ब्याज।

No.31

सदस्य द्वारा दिया गया घोषणापत्र कि निर्माणाधीन मकान/फ्लेट, किसी भी बोझ से मुक्त है तथा वह सदस्य या उसके जीवनसाथी के नाम से है। (अधिसूचना दिनांक 25.02.2000)

मकान के निर्माण हेतु  

निधि की सदस्यता के 5 वर्ष पूर्ण होना चाहिए।  (सदस्य के भविष्य निधि लेखा में न्यूनतम शेष राशि रुपये 1000 /- होना चाहिए।)
* खरीद, स्वयं सदस्य अथवा जीवनसाथी के नाम से होना चाहिए।

36 महीने की मजदूरी (मूल वेतन एवं मँहगाई भत्ता) 
या 
​​ सदस्य का स्वयं का अंशदान+कंपनी के अंशदान का हिस्सा तथा उस पर देय ब्याज।

No.31

सदस्य द्वारा दिया गया घोषणापत्र कि निर्माणाधीन मकान/फ्लेट, किसी भी बोझ से मुक्त है तथा वह सदस्य या उसके जीवनसाथी के नाम से है। (अधिसूचना दिनांक 25.02.2000)

रहवासी फ्लेट की खरीद हेतु  

निधि की सदस्यता के 5 वर्ष पूर्ण होना चाहिए।  (सदस्य के भविष्य निधि लेखा में न्यूनतम शेष राशि रुपये 1000 /- होना चाहिए।)
* खरीद, स्वयं सदस्य अथवा जीवनसाथी के नाम से होना चाहिए।
 

36 महीने की मजदूरी (मूल वेतन एवं मँहगाई भत्ता) 
या 
​​ सदस्य का स्वयं का अंशदान+कंपनी के अंशदान का हिस्सा तथा उस पर देय ब्याज।

No.31

सदस्य द्वारा दिया गया घोषणापत्र कि निर्माणाधीन मकान/फ्लेट, किसी भी बोझ से मुक्त है तथा वह सदस्य या उसके जीवनसाथी के नाम से है। (अधिसूचना दिनांक 25.02.2000)

रिहायशी मकान के परिवर्धन, परिवर्तन या सुधार हेतु 

रिहायशी मकान के पूरा होने की तारीख से 5 साल 

12 महीने का मूल वेतन या सदस्य का स्वयं का अंशदान एवं उस पर देय ब्याज।   

No.31

 

68 बी बी: ​​ऋण की अदायगी

लाभ के प्रकार

पात्रता

पात्र राशि

प्रपत्र

दस्तावेजी साक्ष्य

ऋण के पुनर्भुगतान के लिए निधि से अग्रिम

निधि की सदस्यता के 10 वर्ष पूर्ण होना चाहिए तथा सदस्य द्वारा ऋण किसी शासकीय निकाय से लिया गया हो।

36 महीने की मजदूरी (मूल वेतन एवं मँहगाई भत्ता) 
या 
​​ सदस्य का स्वयं का अंशदान+कंपनी के अंशदान का हिस्सा तथा उस पर देय ब्याज ।

No.31

ऋण प्रदान करने वाली संस्था द्वारा ऋण की विगत तथा बकाया दर्शाता हुआ प्रमाणपत्र।   

68 जे: बीमारी के लिए निधि से अग्रिम

लाभ के प्रकार

पात्रता

पात्र राशि

प्रपत्र

दस्तावेजी साक्ष्य

स्वयं की बीमारी के लिए जिसमें 1 माह से अधिक की अवधि के लिए चिकित्सालय मे भर्ती रहना पड़ा हो अथवा किसी चिकित्सालय में बड़ी शल्य चिकित्सा या तपेदिक, कुष्ठरोग, पक्षाघात, कैंसर, मानसिक व्याधि, हद्यरोग से पीड़ित हो, के लिए निधि से अग्रिम।

चिकित्सालय में कम से कम एक माह तक रहना पड़ा हो।

6 माह की मजदूरी (मूल वेतन+महँगाई भत्ता।

No.31

किसी चिकित्सालय के चिकित्सक द्वारा इस आशय का प्रमाणपत्र कि शल्य चिकित्सा अथवा एक माह या अधिक समय के लिए लिए चिकित्सालय में रहना आवश्यक है।  

68 के : विवाह के लिए निधि से अग्रिम

लाभ के प्रकार

पात्रता

पात्र राशि

प्रपत्र

दस्तावेजी साक्ष्य


स्वयं /पुत्र/पुत्री/बहन/भाई इत्यादि के विवाह के लिए निधि से अग्रिम।

पुत्र/पुत्री की शिक्षा के लिए निधि से अग्रिम।

निधि की सदस्यता के 7 वर्ष पूर्ण होना चाहिए।  (सदस्य के भविष्य निधि लेखा में न्यूनतम शेष राशि रुपये 1000 /- होना चाहिए।)
 

सदस्य के स्वयं के अंशदान का 50%।  

No.31

सदस्य दवारा प्रस्तुत घोषणापत्र जिसे नियोक्ता द्वारा सत्यापित किया गया हो।

68 एल : असामान्य परिस्थितियों में अग्रिम

लाभ के प्रकार

पात्रता

पात्र राशि

प्रपत्र

दस्तावेजी साक्ष्य

असामान्य परिस्थितियों, प्राकृतिक आपदाओं इत्यादि में दिया जाने वाला अग्रिम।

उपयुक्त प्राधिकारी द्वारा क्षति का प्रमाणपत्र।
राज्य सरकार का घोषणापत्र ।

रु. 5000/- या सदस्य के स्वयं के अंशदान का 50% ( 4 माह के भीतर आवेदन किया जाना चाहिए। )

No.31

उपयुक्त प्राधिकारी से प्रमाण पत्र।

68 एम: विद्युत आपूर्ति में कटौती से प्रभावित सदस्य को अग्रिम

लाभ के प्रकार

पात्रता

पात्र राशि

प्रपत्र

दस्तावेजी साक्ष्य

विद्युत आपूर्ति की कटौती से प्रभावित सदस्यों को अग्रिम की स्वीकृति।

यह अग्रिम केवल उस सदस्य को स्वीकृत किया जा सकेगा जिसकी जनवरी 1973 से प्रारम्भ होने वाले किसी एक माह का कुल वेतन किसी माह के वेतन का 3/4 या 3/4 से कम हो।

एक महीने का वेतन अथवा 300/- अथवा सदस्य के खाते में जमा कर्मचारी अंशदान की ब्याज सहित राशि, इनमें से जो भी कम हो।

No.31

विद्युत आपूर्ति की कटौती के संबंध में राज्य सरकार द्वारा जारी प्रमाण पत्र।

68 एन: शारीरिक रूप से अपंग सदस्य के लिए अग्रिम की स्वीकृति।

लाभ के प्रकार

पात्रता

पात्र राशि

प्रपत्र

दस्तावेजी साक्ष्य

शारीरिक रुप से अपंग सदस्य को अपंगता के कारण होने वाली कठिनाई को कम करने में सहायक साधन खरीदने के लिए।

सक्षम चिकित्सा अधिकारी (मेडिकल प्रक्टिश्नर) से चिकित्सा प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना कि वह शारीरिक रुप से अपंग है।

छः माह का मूल वेतन + महंगाई भत्ता अथवा उसके हिस्से का अंशदान सहित ब्याज या उस साधन का मूल्य जो भी कम हो।

No.31

चिकित्सा अधिकारी का प्रमाण पत्र कि सदस्य शारीरिक रुप से अपंग है।

टिप्पणीः- पैरा 68 बी, 68बी बी, 68 के, के अंतर्गत सदस्यता की अवधि की गणना करने के लिए योजना के लागू होने से पूर्व एक ही नियोक्ता के अधीन  विराम की अवधि को छोड़ते हुए कुल सेवा की अवधि के साथ-साथ निधि की सदस्यता की अवधि को भी हमेशा शामिल किया जाता है।